Home Google News Chhattisgarh Jobs Trending Topics Today Raipur Web Stories

CG: अब एक पुलिस अधिकारी पर डैम से पानी चुराने का लगा आरोप, संज्ञान में लिया गया मामला

बालोद-डैम में गिरे मोबाइल के लिए लाखों लीटर पानी बहाने का मामला सामने आने के बाद अब छत्तीसगढ़ में एसडीओपी पर डैम का पानी चोरी करने का आरोप लगा है. अफरशाही का यह कारनामा राज्य के बालोद जिले के दर्रीटोला डैम में सामने आया है.

आरोपी पुलिसकर्मी पर डैम का पानी चुराकर मछली पालन में इस्तेमाल करने का आरोप है. जल संसाधन विभाग के अधिकारियों और ग्रामीणों का दावा है कि पुलिस अफसर पिछले एक साल से पानी चोरी कर रहा है. मामले को जल संसाधन विभाग के अधिकारी के संज्ञान में लाने के बाद उन्होंने मोटर निकलवाकर जांच कराने का आश्वासन दिया है.

इससे पहले कांकेर जिले के पंखाजूर में एक फूड इंस्पेक्टर ने पानी में गिरा अपना महंगा मोबाइल निकालने के लिए बांध का लाखों लीटर पानी ही बहा दिया था. एक फोन के खातिर बहाए गए पानी से डेढ़ हजार एकड़ खेतों की सिंचाई की जा सकती थी. अफसर का कीमती मोबाइल फोन तो मिल गया था, लेकिन वह खराब हो चुका था.

दरअसल, कोयलीबेड़ा ब्लॉक के एक फूड ऑफिसर रविवार को छुट्टी मनाने खेरकट्टा परलकोट जलाशय पहुंचे थे. यहां अफसर का महंगा मोबाइल फोन खेरकट्टा परलकोट जलाशय के ओवर पुल पर लबालब 15 फीट तक भरे हुए पानी में गिर गया था. अधिकारी ने मोबाइल को ढूंढने के लिए पहले पास के गांववालों को लगाया. अच्छे-अच्छे गोताखोर उतारे. लेकिन असफलता ही हाथ लगी.

इसके बाद फोन को निकालने के लिए सिंचाई विभाग के अधिकारियों से चर्चा की गई. फिर बाकायदा 30 एचपी का पंप लगाकर जलाशय का पानी बाहर निकलवा दिया. पानी निकालने के लिए तीन दिनों से लगातार पंप चलता रहा था. हालांकि, जलाशय से लगातार पानी निकालने की बात ऊपर तक पहुंची और सिंचाई विभाग के अधिकारी दौड़े-दौड़े मौके पर पहुंचे थे और पंप को बंद करवाया गया था.

SDO को भी जारी हुआ था नोटिस

मामला सामने आने के बाद कांकेर जिले की कलेक्टर प्रियंका शुक्ला ने इस संबंध में रिपोर्ट मांगी थी और अफसर को सस्पेंड कर दिया था. कलेक्टर शुक्ला ने जल संसाधन विभाग के एसडीओ आरसी धीवर को बांध के बाहरी हिस्से से पानी निकालने की मौखिक अनुमति देने के लिए कारण बताओ नोटिस जारी किया था. जारी निलंबन आदेश के मुताबिक, अधिकारी विश्वास ने परलकोट जलाशय के ‘वेस्ट वियर’ से लगभग 4104 क्यूबिक मीटर यानी 41 लाख लीटर पानी डीजल पंप से बहा दिया था.

Join WhatsAppJoin Telegram