कान फिल्म फेस्टिवल में छत्तीसगढ़ी फिल्म ‘बैलाडीला’ का हुआ चयन

फ्रांस में आयोजित होने वाले कान फिल्म फेस्टिवल में छत्तीसगढ़ी फिल्म बैलाडिला को भी प्रस्तुत किया (Chhattisgarhi film Bailadila) जाएगा. कुल 5 फिल्मों में इस बैलाडिला को भी जगह मिली है.

इस फिल्म के निर्देशक शैलेंद्र साहू हैं. उन्होंने छत्तीसगढ़ी और हिंदी भाषा में इस फिल्म को बनाया है.

रायपुर: फ्रांस में आयोजित होने वाले प्रतिष्ठित कान फिल्म फेस्टिवल में भारत को आधिकारिक तौर पर सम्मानित देश यानी कि कंट्री ऑफ ऑनर बनाया (Chhattisgarhi film Bailadila to be screened at Cannes Film Festival) गया है. जहां भारत की संस्कृति, धरोहर, भाषाई विविधता, सिनेमा को वैश्विक मंच पर प्रदर्शित किया जायेगा. कान फिल्म महोत्सव 17 से 25 मई तक चलेगा.इस बार आर माधवन द्वारा बनाई गई Rocketry फिल्म का वर्ल्ड प्रीमियर किया जाएगा. भारत को ‘गोज टू कान सेक्शन’ में 5 चयनित फिल्मों को प्रस्‍तुत करने का अवसर दिया गया है.

इन फिल्मों को दी गई जगह:

  • जयचेंग जक्सई दोहुतिया की बागजान – असमिया
  • शैलेंद्र साहू की बैलाडिला – हिंदी, छत्तीसगढ़ी
  • एकतारा कलेक्टिव की एक जगह अपनी (अ स्पेस ऑफ अवर ओन) – हिंदी
  • हर्षद नलवाडे की फॉलोवर – मराठी, कन्नड़, हिंदी
  • जय शंकर की शिवम्मा – कन्नड़

हिन्दी और छत्तीसगढ़ी भाषा में बनी इस फिल्म को मिली जगह: बता दें कि गोज टू कान सेक्शन में चयनित हुई पांच फिल्मों में से एक शैलेंद्र साहू द्वारा छत्तीसगढ़ी हिंदी भाषा में बनाई गई बैलाडिला फिल्म भी शामिल है, जिसकी प्रस्तुति की जाएगी. बैलाडीला फिल्म 100 मिनट की है. इसे हिंदी और छत्तीसगढ़ी भाषा में बनाया गया है. फिल्म के डायरेक्टर शैलेंद्र साहू और निर्माता राजू बिस्वास हैं.इस फिल्म में दंतेवाड़ा के बैलाडिला की कहानी है. जो कि एक दस साल के बच्चे रिंकू के ईर्द गिर्द घूमती है.