September 28, 2021, 1:28 pm
Homeविज्ञानरहस्यमयी घटना! क्या धरती पर UFO क्रैश होने से एलियन मर गया...
spot_img

रहस्यमयी घटना! क्या धरती पर UFO क्रैश होने से एलियन मर गया था, विशेषज्ञों द्वारा किया गया था पोस्टमार्टम?

advertisement

तारीख 8 जुलाई 1947, स्थान अमेरिका के न्यू मैक्सिको राज्य का रोजवेल शहर। रोजवेल में अमेरिकी वायुसेना का बहुत बड़ा अड्डा है। इस दिन वायुसेना के अधिकारियो ने एक प्रेस रिलीज जारी कर बताया था, रोजवेल के एक खेत से फ्लाइंग सॉसर (उड़न तश्तरी) बरामद की गयी है। लेकिन अमेरिकी वायुसेना बहुत जल्द ही अपने इस बयान से पलट गयी। उसने एक नया बयान जारी कर बताया कि खेत में जो वस्तु मिली थी वह एक परम्परागत वेदर बलून है।

माना जाता है कि उस दिन रोजवेल में उड़न तश्तरी दुर्घटनाग्रस्त हो गयी थी और बात को छिपाने के लिए सेना ने अपना बयान बदल दिया था। अमेरिकी सरकार उड़न तश्तरी की जानकारी को गुप्त रखना चाहती थी। बाद में ये बात सामने आयी कि उस दिन उड़न तश्तरी के दुर्घटनाग्रस्त होने से एक एलियन की मौत हो गयी थी। उसके शव का पोस्टमार्टम भी किया गया था। पोस्टमार्टम किये जाने की एक तस्वीर भी सार्वजनिक हुई थी। ये तस्वीर असली है या नकली ? यह तर्क का विषय बन गया।

अमेरिका के बर्नार्ड ए रे एक भूगर्भशास्त्री थे। 8 जुलाई 1947 को वे रोजवेल के रेगिस्तान में तेल की खोज के लिए अभियान चला रहे थे। इसी समय आसमान से एक रहस्यमयी चीज आ कर नीचे गिरी जिसकी आकृति फ्लाइंग सॉसर (उड़न तश्तरी) जैसी थी। बर्नार्ड के पास एक कैमरा था। उन्होंने इसकी तस्वीर उतार ली। तस्वीर खींचने के लिए उन्होंने कैमरे में कोडाक्रोम फिल्म इस्तेमाल किया था। इस तस्वीर में दिखाया गया है कि क्रैश यूएफओ में एक मृत एलियन है। बर्नार्ड द्वारा खींची गयी यह तस्वीर करीब 48 साल तक छिपा कर रखी गयी। 1995 में फॉक्स टेलीविजन पर एक विशेष डॉक्यूमेंट्री शो दिखाया जिसमें एलियन के शव और उसके पोस्टमार्टम के फुटेज थे। इस शो का नाम था- एलियन ऑक्टोपसी : फैक्ट और फिक्शन। एलियन के पोस्टमार्टम की घटना सच है या कल्पना, इस बात का फैसला फॉक्स टेलीविजन ने दर्शकों पर छोड़ दिया था। फॉक्स टेलीविजन को ये तस्वीर 1992 में अमेरिकी सेना के एक फोटोग्राफर से मिली थी। उस समय एलियन की इस तस्वीर को नकली बताया गया था।

मृत एलियन के पोस्टमार्टम की तस्वीर असली है या नकली ? इस सवाल पर बहस शुरू हो गयी। यूएफओ विशेषज्ञों ने इसकी सच्चाई जांचने के लिए तस्वीर को कोडक कंपनी (फोटोग्राफी फिल्म बनाने वाली कंपनी) के पास भेजा। न्यूयॉर्क स्थिति कोडक की प्रयोगशाला में इस बात की जांच हुई कि जिस फिल्म पर ये तस्वीर उतारी गयी है उसके रौ मटेरियल में क्या-क्या इस्तेमाल किया गया है। जांच के बाद पाया गया कि जिन इनग्रेडिएंट्स से ये फिल्म स्ट्रीप बनायी गयी है उसका इस्तेमाल 1947 के आसपास किया जाता था। यानी यह मान लिया गया कि एलियन की यह तस्वीर 1947 की है। विशेषज्ञों ने यह भी बताया कि फोटो में कोई छेड़छाड़ नहीं की गयी है। लेकिन कुछ अन्य वैज्ञानिकों ने इस तस्वीर को फर्जी करार दिया। एलियन पर स्पेशल शो दिखाने के दस साल बाद फॉक्स टेलीविजन ने भी माना कि एलियन के पोस्टमार्टम की तस्वीर नकली थी।

एलियन और यूएफो के बारे में वैज्ञानिकों के तर्क एक दूसरे को कटने वाले हैं। कुछ विशेषज्ञ एलियन की इस तस्वीर को सच मानते हैं, कुछ फर्जी। इसकी वजह से यह पता ही नहीं चल पाता कि सच क्या है। यूएफओ के जानकार और शोधकर्ता टॉम कैरी का कहना है कि उनके पास एलियन के पोस्टमार्टम की असली तस्वीरें हैं। कैरी के मुताबिक, ये तस्वीर 1947 की है और वास्तविक है। इस तस्वीर में एलियन जैसी एक आकृति सर्जेरी टेबल पर लेटी हुई है। उसका एक पैर आंशिक रूप से कट हुआ है। उसके सिर और पेट पर चोट के निशान हैं। अमेरिका का एक राज्य है नेवेदा जो दक्षिण पश्चिम में अवस्थित है। नेवेदा के ग्रूम झील के पश्चिमी तट पर अमेरिक का एक प्रमुख सैनिक अड्डा है जिसे एरिया 51 टॉप सिक्रेट मिलिट्री रिसर्च बेस के नाम से जाना जाता है। यहां के वैज्ञानिक बॉयड बुशमैन ने यूएफओ का विशेष अध्ययन किया है। उन्होंने दावा किया था कि कुछ एलियंस को जिंदा पकड़ा गया था और उन्हें एरिया 51 टॉप सिक्रेट मिलिट्री रिसर्च बेस पर रखा गया था। लेकिन इस बात का कोई वैज्ञानिक प्रमाण मौजूद नहीं है।

राष्ट्रपति बनने से पहले बराक ओबामा ने भी ये बात सुन रखी थी। उनके जेहन में भी ये बात थी कि शायद अमेरिक के किसी रिसर्च लेबोरेट्री में एलियंस को रखा गया हो। लेकिन राष्ट्रपति बनने के बाद जब उन्होंने इस बात की जानकरी ली तो ऐसी कोई प्रयोगशाला नहीं मिली जहां जिंदा एलियन रखने की पुष्टि होती हो। हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर एवी लोएब ने 2017 दावा किया था कि एलियंस धरती की ओर कचर फेंक रहे हैं। प्रोफेसर लोएब ने कहा था कि अंतरिक्ष में मौजूद एक दूसरी सभ्यता, धरती पर अवशिष्ट पदार्थ फेंक रही है। एलियंस के अस्तित्व पर तर्क और वितर्क में ऐसी कई बातें सामने आ रही हैं जो हैरान करने वाली हैं।

advertisement
advertisementspot_img
advertisement
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

advertisement
advertisement

Most Popular

Recent Comments

advertisement