Home Google News Chhattisgarh Jobs Trending Topics Today Raipur Web Stories

शर्मनाक! 3 टीचर और पादरी ने मिलकर 8 आदिवासी बच्चियों के साथ किया शोषण, बच्चियों ने दर्ज कराई रिपोर्ट

मिशनरी चिल्ड्रन होम में आदिवासी बच्चियों के साथ घिनौनी हरकत का मामला सामने आया है.


आरोप है कि इस होम का संचालक और पादरी इस खेल का मास्टरमाइंड है. बच्चियों की शिकायत पर पुलिस ने पादरी और तीन शिक्षकों पर केस दर्ज किया है. वहीं पुलिस ने पादरी को गिरफ्तार कर उससे पूछताछ शुरू कर दी है. मामला डिंडौरी में अमरपुर विकासखंड के जुनवानी गांव का है.

एक एक कर सामने आई आठ बच्चियों ने इस संबंध में मध्य प्रदेश बाल आयोग को शिकायत की. बताया कि इस चिल्ड्रन होम में उनके साथ ना केवल अनैतिक व्यवहार किया जाता है, बल्कि संस्थान के पादरी व अन्य शिक्षक गंदी नीयत से उन्हें देखते हैं. आए दिन उनके साथ अश्लील हरकतें की जाती हैं. इसके बाद राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग के अध्यक्ष प्रियांक कानूनगो ने इस घटना को ट्वीट किया. उन्होंने पुलिस से संबंधित के खिलाफ कार्रवाई की अपील की.

कानूनगो के ट्वीट के बाद केस दर्ज

राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग के अध्यक्ष प्रियांक कानूनगो के ट्वीट के बाद हरकत में आई पुलिस ने तुरंत चिल्ड्रन होम का निरीक्षण किया. यहां रह रही बच्चियों से बातचीत की और उनके बयान के आधार पर पादरी समेत चार शिक्षिकों के खिलाफ पॉक्सो एक्ट और एससी एसटी एक्ट की धाराओं में केस दर्ज किया है. पुलिस ने मौके से पादरी को गिरफ्तार कर उससे पूछताछ शुरू कर दी है. पुलिस ने बताया कि इस चिल्ड्रन होम में 600 से अधिक आदिवासी बच्चियों को रखा गया है. आशंका है कि ज्यादातर बच्चियों के साथ इस तरह की वारदात हुई है!

मामले की जांच में जुटी पुलिस

डिंडोरी एसपी संजय कुमार सिंह के मुताबिक शिकायत के आधार पर आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया है. मामले की छानबीन कराई जा रही है. पीड़ित बच्चियों के बयान दर्ज किए गए हैं. उन्होंने बताया कि इस मामले में स्कूल संचालक व पादरी शनि, प्रिंसिपल नान सिंह यादव, अतिथि शिक्षक खेम चंद्र और एक अन्य को नामजद किया गया है.

Join WhatsAppJoin Telegram