November 28, 2021, 6:21 pm
Homeविज्ञानइस तारीख को लगेगा 21वीं सदी का सबसे लंबा चंद्रग्रहण, जानें कहां-कहां...
advertisementspot_img
advertisementspot_img
advertisementspot_img
advertisementspot_img

इस तारीख को लगेगा 21वीं सदी का सबसे लंबा चंद्रग्रहण, जानें कहां-कहां दिखेगा

advertisement

अमेरिका की अंतरिक्ष एजेंसी नेशनल एरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन(नासा) ने हाल ही में घोषणा की है कि पृथ्वी कुछ ही हफ्तों में 21वीं सदी का सबसे लंबा आंशिक चंद्र ग्रहण देखने वाली है। नासा के अनुसार, हम यह चंद्र ग्रहण 19 नवंबर, 2021 को देखेंगे। इस साल का दूसरा और आखरी चंद्र ग्रहण है। इस दिन कार्तिक पूर्णिमा भी होगी। यह ग्रहण इस सदी का सबसे लंबा चंद्र ग्रहण होगा और इसका रंग गहरा लाल रहेगा।

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी ने कहा कि चंद्र ग्रहण की उत्तरी अमेरिकी क्षेत्र में अच्छी दृश्यता होगी और इसके 3 घंटे 28 मिनट तक चलने की उम्मीद है, जिससे वैज्ञानिकों के अनुसार 21वीं सदी में यह सबसे लंबा आंशिक चंद्र ग्रहण होगा। इस चंद्र ग्रहण के दौरान लगभग 97 प्रतिशत चंद्रमा मानव आंखों को लाल दिखाई देगा। नासा ने कहा कि ग्रहण 4 AM ET (शनिवार को दोपहर 1:30 बजे, ( भारतीय मानक समय ) पर चरम पर होगा।

एक आधिकारिक विज्ञप्ति में नासा ने लिखा, आंशिक चंद्र ग्रहण आने वाला है, जो 18 और 19 नवंबर को रात में दिखाई देगा है।इस दौरान पृथ्वी पूरे चंद्रमा को सूरज की किरणों से ढक देगी। खगोलविदों के अनुसार, इस दौरान चांद का रंग सुर्ख लाल होगा जिसे भारत में भी देखा जा सकेगा। नासा के वैज्ञानिकों और खगोलविदों का कहना है कि सदी का सबसे लंबा चंद्रग्रहण तीन घंटे 28 मिनट और 23 सेकंड का होगा।

वैज्ञानिकों के अनुसार, वर्ष 2001 से वर्ष 2021 के बीच पहली बार इस तरह की घटना घटित होगी। नासा के अनुसार पृथ्वी 21वीं सदी में 228 चंद्रग्रहण का साक्षी बनेगी। एक माह में दो और तीन चंद्रग्रहण भी देखने को मिल सकते हैं। चंद्र ग्रहण केवल उन्हीं जगहों पर दिखाई देता है, जहां चंद्रमा आकाश के घेरे में यानी क्षितिज के ऊपर होता है। असम और अरुणाचल प्रदेश सहित भारत के पूर्वोत्तर राज्यों के लोगों को यह दिखाई दे सकता है। उत्तरी अमेरिका के लोगों को यह सबसे बेहतरीन दिखाई देगा। अमेरिका के सभी 50 राज्‍यों समेत मैक्सिको में भी लोग इसे देख पाएंगे।

चंद्र ग्रहण के दौरान चंद्रमा, सूर्य और पृथ्वी एक सीधी रेखा में आ जाते हैं। पृथ्वी, सूर्य के प्रकाश को चंद्रमा तक पहुंचने से रोकती है और इस तरह से ऐसा लगता है क‍ि चंद्रमा को पृथ्‍वी ने खा ल‍िया है। इस वर्ष दो चंद्रग्रहण पड़ने हैं, जिसमें से एक चंद्रग्रहण बीते 26 मई को लग चुका है। अब इस महीने साल का यह दूसरा और आखिरी चंद्रग्रहण है। इस वर्ष में कुल मिलाकर कुल चार ग्रहण पड़ने हैं, जिनमें दो चंद्रग्रहण और दो सूर्यग्रहण शामिल हैं।

advertisement
advertisementspot_img
advertisement
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

advertisement
advertisement
advertisement

Most Popular

Recent Comments

advertisement