December 7, 2022, 7:28 pm
HomeअपराधCG ब्रेकिंग: नाबालिग को प्रेम जाल में फंसाया फिर कराया दो बार...
advertisementspot_img
advertisement

CG ब्रेकिंग: नाबालिग को प्रेम जाल में फंसाया फिर कराया दो बार अबॉर्शन, साथ रहने की जिद जब करने लगी प्रेमिका तो पीस पीस कर टुकड़ों में बांटने की धमकी दे रहा युवक

advertisement

नाबालिग को प्रेम जाल में फंसाया फिर कराया दो बार अबॉर्शन, साथ रहने की जिद जब करने लगी प्रेमिका तो पीस पीस कर टुकड़ों में बांटने की धमकी दे रहा युवक

रायगढ़-देश की राजधानी दिल्ली में आफताब और श्रद्धा के वाकये ने पूरे देश में एक नई बहस छेड़ दी है। यह बहस इसलिए भी क्योंकि श्रद्धा के साथ जो कुछ हुआ, वह गंभीर मसला है, लेकिन करने वाला एक मुस्लिम युवक है, इसलिए यह ज्यादा गंभीर हो गया। इसके विपरीत छत्तीसगढ़ के जशपुर की अनुसूचित जाति की एक लड़की के साथ रायगढ़ के एक कारोबारी ने दुष्कर्म किया। लिव इन रिलेशनशिप में रहा। उसका दो बार एबॉर्शन कराया। दूसरी शादी भी कर ली। जब पीडिता थाने गई तो जान से मारने की धमकी देने लगा। 15 दिन बाद भी पुलिस आरोपी को नहीं पकड़ पाई है, जबकि पीड़िता के मोबाइल में आरोपी हर दिन फोन कर रहा है और धमकी दे रहा है कि वह पीड़िता के टुकड़े टुकड़े कर नाले में बहा देगा। पुलिस की यह लापरवाही दुष्कर्म, एट्रोसिटी और पॉक्सो के मामले में है। आलम यह है कि पीड़िता खुद की सलामती के लिए यहां-वहां छिप रही है। सवाल ये उठ रहे हैं कि क्या पीड़िता को टुकड़े टुकड़े कर जब नाले में बहा दिया जाएगा, तब पुलिस आरोपी को पकड़ेगी।

बैडमिंटन टूर्नामेंट के दौरान रायगढ़ स्टेडियम में मिले

पीड़िता जशपुर की रहने वाली है और बैटमिंटन खिलाड़ी रही है। 24 जनवरी 2009 में उसकी मुलाकात मनोज अग्रवाल से हुई। मनोज का मूल पता पुसौर है। वर्तमान में पता कालिंदी कुंज मिट्ठूमुड़ा रायगढ़ है। (एफआईआर के बाद गायब है।) पीड़िता के मुताबिक टूर्नामेंट के दौरान उसकी मुलाकात मनोज से हुई। इसके बाद दोनों के बीच बातचीत होने लगी। 2012 में उसने पीड़िता को पुसौर बुलाया। अपने घरवालों से मुलाकात कराई और यह आश्वासन दिया कि वह शादी करेगा। इसके बाद जयपुर, दिल्ली पहाड़गंज, पुरी आदि जगहों पर ले गया और जबर्दस्ती शारीरिक संबंध बनाया। इस बीच 2018 में पीड़िता गर्भवती हुई तो उसने यह कहकर गर्भपात कराया कि वह जिम्मेदारी नहीं संभाल पाएगी। दो बार पीड़िता का गर्भपात कराया।

9 फरवरी 2019 को दूसरी लड़की से की शादी

यह सबकुछ चलता रहा और अचानक 9 फरवरी 2019 को मनोज ने दूसरी शादी कर ली। जब पीड़िता ने सवाल जवाब किया तो वह कहने लगा कि उसने मजबूरी में शादी की है। पत्नी खिच खिच करती है। उसे छोड़ देगा। इस बीच यह आश्वासन दिलाने के लिए मनोज ने एक मार्च 2022 को महाशिवरात्रि के दिन रायगढ़ के कनकतूरा के आगे शिव मंदिर में मांग भर दी। इस दौरान दोनों का मिलना-जुलना जारी रहा। इसी बीच एक बार फिर पीड़िता गर्भवती हुई तो यह कहकर अपनाने से इंकार कर दिया कि वह छोटी जाति की है। साथ ही, दवाई खिलाकर गर्भपात करा दिया। जब पीड़िता ने अपना हक मांगा तो आरोपी ने मारपीट शुरू कर दी। आरोपी ने एक घर किराये पर लिया था, जिसमें पीड़िता रहती थी और किराया आरोपी दिया करता था। 12 अक्टूबर 2022 को आरोपी की दूसरी पत्नी से बच्चा हुआ तो उसने घर का किराया भी नहीं देने की बात कह दी। यह बात पीड़िता ने आरोपी की बड़ी बहन चंदा को बताई। यह जानकारी जब मिली तो आरोपी नशे की हालत में आया और धमकी दी मारपीट की। साथ ही, पीस पीस कर नाले में बहाने की धमकी भी दी।

अग्रिम जमानत खारिज, पुलिस कह रही लोकेशन नहीं मिल रहा

पीड़िता ने बताया कि आरोपी की अग्रिम जमानत याचिका खारिज हो चुकी है। पुलिस के कहने पर उसने अपना नंबर चालू रखा, जिसमें आरोपी फोन कर धमकी दे रहा। फोन आने और धमकी मिलने की जानकारी जब थाने में दी तो पुलिस अधिकारी कह रहे हैं कि आरोपी का लोकेशन नहीं मिल रहा है। पीड़िता ने बताया कि वह आरोपी के डर से लोकेशन बदल रही है, लेकिन उसने आशंका जताई है कि आरोपी या उसके परिजन से खतरा है।

advertisement
advertisement
advertisement
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments

advertisement
advertisement
advertisement

Most Popular

Recent Comments

advertisement
%d bloggers like this: