Home Google News Chhattisgarh Jobs Trending Topics Today Raipur Web Stories

Titanic का मलबा देखने गए 05 पर्यटकों की मौत

Titanic का मलबा देखने गए 05 पर्यटकों की मौत

मीडिया रिपोर्ट से मिली जानकारी के मुताबिक 18 जून यानी रविवार को ओशनगेट कंपनी की सबमरीन में सवार पांच लोग इस रोमांचक यात्रा पर निकले थे, लेकिन 2 घंटे में ही इससे संपर्क टूट गया था।

110 साल पहले डूबे टाइटैनिक जहाज को देखने गए लापता पांच पर्यटकों की मौत की खबर सामने आई है। बता दें कि पनडुब्बी समेत पांच लोग रविवार से ही गायब थे। इनको तलाशने के लिए उत्तरी अटलांटिक महासागर में सर्च अभियान चलाया गया, लेकिन अब इस पनडुब्बी में सवार पांचों लोगों के मौत की खबर सामने आ रही है। इसकी पुष्टि पनडुब्बी ऑपरेट करने वाली कंपनी OceanGate और यूएस कोस्ट गार्ड ने भी कर दी है।

मीडिया रिपोर्ट से मिली जानकारी के मुताबिक 18 जून यानी रविवार को ओशनगेट कंपनी की पनडुब्बी में सवार होकर पांच लोग इस रोमांचक यात्रा पर निकले थे, लेकिन यात्रा शुरु होने के 2 घंटों बाद ही इस पनडुब्बी का संपर्क सतह से टूट गया था।

टाइटैनिक के पास मिला पनडुब्बी का मलबा

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक पांच लोगों समेत लापता पनडुब्बी को तलाशने के लिए उत्तरी अटलांटिक महासागर में सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा था। उस दौरान एक्सपर्ट्स ने जानकारी दी थी कि पनडुब्बी में सिर्फ चार दिन का ही ऑक्सीजन है।

हालांकि सर्च टीम को टाइटैनिक के पास ही इस पनडुब्बी का मलबा मिला। यूएस कोस्ट गार्ड ने गुरुवार को बताया कि टाइटैनिक के सदियों पुराने मलबे को देखने के लिए पांच लोगों को ले जा रही पनडुब्बी में भयावह विस्फोट हो गया था, जिसके बाद उसका मलबा मिला है। वहीं बिस्फोट के बाद इसमें सवार सभी लोगों की मौत हो गई।

वफ़ादारी की जांच में ए.सी.टी. की टीम

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार यूएस कोस्ट गार्ड कमांडर एडमिरल जॉन माउगर ने बताया कि एक कनाडाई जहाज में एस्थेटिक रोबोटिक डाइविंग वाहन गुरुवार सुबह टाइटैनिक से लगभग 1,600 फीट (488 मीटर) दूर, समुद्र तल से 2 1/2 मील (4 किमी) नीचे की सतह से रवाना हुआ। टाइटन सबमरीन के एक गोले की खोज पर। वहीं सबमरीन की मालबा मीटिंग के बाद बैचलर टीम की ओर से इसकी जांच की गई।

साउंड मॉनिटरिंग जर्नल में रिकॉर्ड किया गया विस्फोट था

वॉल स्ट्रीट जर्नल ने गुरुवार को बताया कि अमेरिकी नौसेना ने अटलांटिक महासागर में पनडुब्बी के लापता होने के तुरंत बाद पानी के नीचे ध्वनि निगरानी में विस्फोट का पता लगाया था। अमेरिकी नौसेना के एक वरिष्ठ अधिकारी के हवाले से दिए गए जर्नल में कहा गया है कि पनडुबियों का पता लगाने के लिए एक साउंड मॉनिटरिंग जर्नल ने रविवार को टाइटन के लापता होने के तुरंत बाद हुए विस्फोट को रिकॉर्ड किया था।

पनडुब्बी सवार सभी पांचों अरबपति

बता दें कि हादसे का शिकार टाइटन सबमरीन में सवार सभी पांच लोग जाने-माने अरबपति थे। इसमें ओशनगेट के सीईओ स्टॉकटन रैश, शहजादा और उनके बेटे सुलेमान दीप, हामिश हार्डिंग और पॉल-हेनरी नार्जियोलेट शामिल थे।

इस यात्रा में आठ घंटे का समय लगता है

वास्तविक मीडिया रिपोर्ट से मिली जानकारी के अनुसार अमेरिकी कंपनी ओशनगेट की टाइटन सबमरीन 18 जून को टाइटैनिक के मालबा टू के लिए पांच लोगों को लेकर यात्रा पर निकली थी। टाइटैनिक के अवशेष तक जाने, देखने और वापस आने के बारे में बताने के लिए यात्रा में करीब आठ घंटे का समय लगता है।

पांच यात्रियों की मौत: ओशनगेट

वहीं जहाज का मालिकाना हक रखने वाली कंपनी ओशनगेट के अनुसार, लापता पनडुब्बी में सवार पांच लोगों की मौत मानी जा रही है। ओशनगेट एक्सपीडिशन ने एक बयान में कहा कि ये लोग सातवें खोजकर्ता थे, जिनमें रोमांच और दुनिया के महासागरों की खोज का गहरा जुनून था। इस वैकल्पिक समय में हमारी संवेदनाएँ पाँच मृतआत्माओं और उनके परिवार के सदस्यों के साथ हैं।

एक व्यक्ति का है बिजनेसमैन

ओशनगेट की वेबसाइट के अनुसार, टाइटैनिक के वॉर्थ तक के सफर को साल 2021 में संचालित किया जा रहा है, इसकी कंपनी की लागत प्रति व्यक्ति $250,000 है। ओशनगेट के समुद्री ऑपरेशन के पूर्व प्रमुखों ने टाइटन की सुरक्षा के बारे में 2018 में भी सवाल उठाए थे।

Join WhatsAppJoin Telegram